Poem – मुनाफ़े का सबक़

  • Alok 
alok verma motivational speaker

अच्छे मुनाफ़े का यह सबक़ सीख लो 

ख़ुद से इश्क़ करने का हुनर सीख लो

रिश्तों के बाज़ार में तुमको आना पड़ेगा

दिल भी किसी से लगाना पड़ेगा

इश्क़ होगा तो दिल की दवा भी मिलेगी 

ख़ुशी कुछ मिलेगी दग़ा कुछ मिलेगी 

क्या होता है दिल पे इश्क़ का असर सीख लो 

अच्छे मुनाफ़े का यह सबक़ सीख लो 

ख़ुद से इश्क़ करने का हुनर सीख लो

उम्र भर रिश्तों में सुकून छानते रहोगे 

उनकी ख़ुशी में अपनी ख़ुशी मानते रहोगे 

जो जितना पास होगा दिल उतना ही तोड़ेगा

यह दिल का मर्ज़ कही का ना छोड़ेगा

आज़ाद उड़ने का यह सबब सीख लो 

अच्छे मुनाफ़े का यह सबक़ सीख लो 

ख़ुद से इश्क़ करने का हुनर सीख लो

Leave a Reply

Your email address will not be published.